ASIA

पीएम मोदी ने काशी विश्वनाथ धाम के कार्यकर्ताओं के लिए 100 जोड़ी जूट के जूते भेजे


पीएम ने हाल ही में पाया कि विश्वनाथ धाम में काम करने वाले ज्यादातर लोगों को नंगे पांव काम करना पड़ता है क्योंकि चमड़े या रबर की चप्पलें वर्जित हैं

वाराणसी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश के वाराणसी में काशी विश्वनाथ धाम में काम करने वालों के लिए 100 जोड़ी जूट के जूते भेजे हैं, सरकार के सूत्रों ने सोमवार को यह जानकारी दी।

सरकारी सूत्रों के अनुसार, पीएम मोदी काशी विश्वनाथ धाम से गहराई से जुड़े हुए हैं और वाराणसी के सभी मुद्दों और घटनाक्रमों पर नजर रखते हैं।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री को हाल ही में पता चला कि काशी विश्वनाथ धाम में काम करने वाले ज्यादातर लोगों को नंगे पैर काम करना पड़ता है क्योंकि मंदिर परिसर में चमड़े या रबर से बने जूते पहनना मना है।

इनमें पुजारी, सेवा करने वाले लोग, सुरक्षा गार्ड, सफाई कर्मचारी और मंदिर के अन्य कार्यकर्ता शामिल हैं।

सूत्रों ने कहा कि उन्होंने तुरंत 100 जोड़ी जूट के जूते खरीदे और इन्हें काशी विश्वनाथ धाम भेज दिया, ताकि अपने कर्तव्यों का पालन करने वालों को कड़ाके की ठंड में नंगे पांव न रहना पड़े।

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले महीने वाराणसी में काशी विश्वनाथ धाम परियोजना के चरण 1 का उद्घाटन किया था।

परियोजना का उद्घाटन करने से पहले अपने लोकसभा क्षेत्र में प्रधानमंत्री ने परियोजना के निर्माण में लगे मजदूरों का फूलों से अभिनंदन किया था.

पीएम मोदी ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ काशी विश्वनाथ धाम कॉरिडोर के निर्माण कार्य में लगे मजदूरों के साथ लंच भी किया.



Source link

Related posts

WORLDWIDE NEWS ANGLE